एडिटर्स गिल्ड ने पेगासस जासूसी मामले को लेकर खटखटाया उच्चतम न्यायालय का दरवाजा

नई दिल्ली:   एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने पेगासस जासूसी मामले को लेकर अब उच्चतम न्यायालय का रुख किया है। गिल्ड ने न्यायालय में कई मशहूर और वरिष्ठ पत्रकारों के नाम भी इस सूची में शामिल होने की बात उठाई है।

गौरतलब है कि इससे पहले वरिष्ठ पत्रकार एन राम और उनके सहयोगी भी उच्चतम न्यायालय में इसपर एक याचिका दाखिल कर चुके हैं। इसके अलावा भी कुछ पत्रकारों, वकील और राज्यसभा सांसद ने अदालत में अर्जी लगाकर इस मामले की जांच कोर्ट की निगरानी वाली एसआईटी या किसी स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच एजेंसी से करवाने की गुहार लगाई है।

यहां बताना प्रासंगिक होगा कि पेगासस मामले पर अदालत में अब तक 5 याचिका पहुंची हैं। इसमें वकील एमएल शर्मा, सीपीआईएम से राज्यसभा सांसद जॉन ब्रिटास, वरिष्ठ पत्रकार एन राम और शशि कुमार, एक्टिविस्ट परंजॉय ठाकुरता सहित चार अन्य और एडिटर्स गिल्ड की याचिका शामिल है।

मामले की सुनवाई 5 अगस्त को की जाएंगी। या मामला सड़क से लेकर संसद तक गूंज चुका है। विपक्षी सांसद इसको लेकर लगातार हंगामा कर रहे हैं और चर्चा की भी मांग उठा रहे हैं।