पीवी सिंधु का गोल्ड का सपना टूटा

नई दिल्ली:   भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु टोक्यो ओलंपिक में महिला एकल बैडमिंटन सेमीफाइनल में मौजूदा विश्व की नंबर 1 खिलाड़ी चीनी ताइपे की ताई त्ज़ु-यिंग से सीधे सेटों में हार गईं।

सिंधु को 18-21, 12-21 से हार का सामना करना पड़ा। कांस्य पदक के लिए कल उनका सामना हे बिंग जिओ से होगा। 26 वर्षीय भारतीय ने 2016 रियो ओलंपिक में रजत पदक जीता था। इससे पहले सिंधु ने जापानी अकाने यामागुची को सीधे गेम में हराकर महिला व्यक्तिगत स्पर्धा के सेमीफाइनल में जगह बनाई।

सिंधु को बड़े टूर्नामेंट का खिलाड़ी माना जाता है। वर्ल्ड चैंपियनशिप जीतने वाली यह भारतीय शटलर तोक्यो 2020 में भी शानदार लय में हैं। अब तक बिना कोई गेम गंवाए वह सेमीफाइनल तक पहुंचीं थीं, लेकिन अब दुनिया की नंबर एक शटलर ताई से उन्हें कड़ी चुनौती मिली।

सिंधु और ताई जू यिंग एक दूसरे के खिलाफ 18 बार भिड़ चुकी हैं। इससे पहले सिंधु और ताई जू यिंग का आमना-सामना रियो ओलिंपिक के महिला एकल के राउंड-16 मुकाबले में हुआ था, जहां भारतीय शटलर ने बाजी मारी थी।